Skip to product information
1 of 6

Buy 100% Original Navratna Ring Online

Buy 100% Original Navratna Ring Online

Regular price Rs. 851.00
Regular price Rs. 1,500.00 Sale price Rs. 851.00
Sale Sold out
Shipping calculated at checkout.
  • नवरत्न की अंगूठी पहनने वाला कोई भी व्यक्ति अपने पूरे जीवनकाल में कभी भी किसी बड़ी बीमारी से प्रभावित नहीं होता है ।
  • यह अंगूठी प्रतिकूल ग्रहों के बुरे प्रभाव और नकारात्मक ऊर्जा को समाप्त करती है।
  • यह नवरत्न अंगूठी न केवल मन की स्पष्टता बढ़ाती बल्कि उसे शांति भी प्रदान करती है।
  • इसके द्वारा व्यापार में प्रगति होती है और धनलाभ होता है है।
  • इसके प्रभाव से मन में मानसिक शांति आती है और कुंडली के दोषों का प्रभाव न्यूनतम होता है।
  • यह आपको प्रतिष्ठा और सामाजिक समृद्धि प्रदान करती है।

 

 

Navratna ring को उसकी सुंदरता के साथ – साथ ज्योतिषीय लाभ के लिए पहना जाता है । यह नौ अद्भुत रत्नो से बनी सबसे प्रसिद्ध रिंग मानी जाती है । अपनी तरह की यह अनूठी रिंग आपके जीवन में संतुलन बहाल करने के लिए बहुत शुभ है। यह एक शक्तिशाली ऊर्जा का उत्सर्जन करती है जो व्यक्ति के आसपास की किसी भी नकारात्मक ऊर्जा को पल भर में ख़तम कर चारो तरफ शांति और उमंग लाती है। कहा जाता है कि इस अंगूठी को धारण करने वाले व्यक्ति को सौभाग्य के साथ ही अच्छा स्वास्थ्य भी प्राप्त होता है।

साक्षात मा लक्ष्मी और विष्णु की शक्तियां करती है इस अंगूठी में वास, जल्द आपके जीवन में ला सकती है तन, मन और धन का सुख।

Product Description:

  • Size: Adjustable
  • Color: Golden
  • Material: Brass (Premium Quality)
  • Quantity: 1 Ring

Key Points:

  • Product will be delivered in 3-7 working days.
  • Actual color might vary slightly from the images shown.
  • We request that you should provide complete address at which someone will be present to receive the package.
  •   नवरत्न अंगूठी क्यों धारण करें? ( Why should wear navratna ring?   

                    नवरत्न ( 9 navratna stones ) के बने आभूषणों का सबसे ज्यादा उपयोग में आने वाला प्रकार navratna ring को माना जाता है। यह नवरत्न सौर मण्डल के नौ ग्रहों को दर्शाते है जिस पर यह पूरा भारतीय ज्योतिष आधारित है। navaratna अंगूठी की लोकप्रियता सिर्फ भारत ही नहीं अपितु विदेशों में भी बहुत है। इसको जापानी ज्योतिषीशास्त्र में भी बहुत उपयोगी माना गया है। इसका असर इतना व्यापक है की इसे कई प्रसिद्ध लोग धारण करते है।                                               Navratna gold ring में सभी नवरत्नों को एक ही समय में धारण करने से सभी ग्रहों को लाभ होता है और इसके द्वारा ग्रहों के अनुकूल प्रभाव आपकी ओर आकर्षित होते है। navratna ring online द्वारा आप अपने ग्रहों की उलटी दिशा में सुधार कर कुंडली के दोषों का प्रभाव कम कर सकते है। नवरत्न की अंगूठी को ज्योतिषी सिद्धांतों के अनुसार व्यवस्थित करना चाहिए। आप gold navratna ring के रत्नो को अपनी कुंडली या राशि के आधार पर चुन सकते है।                           
  • नवरत्न कौन कौन से हैं? ( What are the stones in navratna? )                     

    Navratna stones ring में लगे विभिन्न रत्न अलग-अलग ग्रहों पर निर्भर करते हैं। यह 9 navratna stones और उनसे जुड़े ग्रह कुछ इस प्रकार है : 
    1. रूबी सूर्य का को दर्शाता है। 
  • 2. मोती चंद्रमा का प्रतिनिधित्व करता है।
    3. लाल मूंगा या मूंगा मंगल ग्रह का प्रतीक है।
    4. पन्ना बुध का को दर्शाता है।
    5. पीला-नीलम या पुखराज बृहस्पति के रत्न है।
    6. हीरा अथवा वज्र शुक्र को दर्शाता है।
    7. नीलम रत्न भगवान शनि का प्रतीक है।
    8. गोमेध रत्न राहु का रत्न माना जाता है।
    9. वैदूर्यम (कैट आईज) केतु को दर्शाता है।                    
  • नवरत्न रिंग के लाभ ( What is the benefits of Navaratna ring? )


    Navaratna ring Benefits in hindi :

    1. ऐसा कहा जाता है कि जो कोई भी इस नवरत्न अंगूठी को पहनता है उसे अपने जीवनकाल में कभी भी कोई बड़ी बीमारी नहीं होती है।

    2. यह प्रतिकूल ग्रहों की नकारात्मक ऊर्जा के साथ-साथ उसके हानिकारक प्रभावों को भी समाप्त करता है।

    3. इन navratnas से युक्त अंगूठी पहनने से आध्यात्मिक ज्ञान का विकास होता है।

    4. व्यापार में तरक्की होती है और भाग्य आपका साथ देता है।

    5. Navaratna ring Benefits मानसिक शांति की प्राप्ति होती है और कुंडली में दोषों का प्रभाव कम होता है।

    6. इसको धारण करने से समाज में आपको प्रतिष्ठा और धन की प्राप्ति होती है।

    7. Navaratna stone अंगुठी को धारण करने से सभी प्रकार की नकारात्मक दृष्टि से रक्षा होती है।

    8. Navratna anguthi ke fayde हैं कि यह चमत्कारिक अंगूठी अच्छे स्वास्थ्य, धन, खुशी और मानसिक शांति का प्रतीक है।

    नवरत्न अंगूठी कैसे धारण करें? ( How to wear nav ratan ring? )
    बड़े-बड़े पंडित और विद्वान navratna stones अंगूठी को शुक्ल पक्ष के शुक्रवार को ही धारण करने की सलाह देते हैं। नवरत्न की अंगूठी सूर्योदय के पहले घंटे के भीतर पहनी जाती है। इस navratna ring को आप चाहे तो शुक्रवार या रविवार के दिन भी पहन सकते है।

    Navratna ring for ladies और navratna ring for man के लिए अलग-अलग नियम निर्धारित किए गए हैं। नर अपने दाहिने हाथ की अनामिका में नवरत्न की अंगूठी पहनते हैं, जबकि navratna ring for women अपने बाएं हाथ की अनामिका में पहनती हैं। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि अंगूठी पहनने वाले के हाथ से पूर्व की ओर मुंह करके पहनी जानी चाहिए।

     

    नवरत्न अंगूठी कौन पहन सकता है? ( Who should wear navratna ring? )
    जिन जातकों की कुंडली में नवग्रहों का प्रभाव प्रतिकूल दिखाई दे रहा है, उन्हें navaratna ring gold अवश्य ही पहननी चाहिए। इसे कोई भी धारण कर सकता है।

    नवरत्न अंगूठी पहनने से क्या होता है? ( Navaratna Ring pehanne se kya hota hai? )


    नवरत्न अंगूठी पहनना उन जातकों के लिए शुभ माना जाता है जिनकी कुंडली में ग्रहों की दशा अशुभ फल दे रही हो। navratna ring gold प्रतिकूल ग्रहों की नकारात्मक ऊर्जा और सभी प्रकार के दुष्प्रभावों को दूर करने का कार्य करती है।

    नवरत्न अंगूठी कौन सी उंगली में पहननी चाहिए? ( In which finger should the Navaratna ring be worn? )


    navaratan अंगूठी किस उंगली में पहने का जवाब है इसे Navratna stones अंगूठी को अपने दाएं यानी सीधे हाथ की अनामिका में धारण करें, इससे शुभ फल की प्राप्ति होगी।

View full details